अयोध्या : पांचवें दीपोत्सव के लिए सज-धज कर तैयार हुई रामनगरी, 12 लाख दीपक जलाकर विश्व रेकॉर्ड बनाने की तैयारी

अयोध्या : पांचवे दीपोत्सव के लिए रामनगरी अयोध्या सजधज कर तैयार हो गयी है। सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार को पांचवे दीपोत्सव को मनाने के लिये रामनगरी अयोध्या जाएंगे।

श्रीराम के अयोध्या आगमन को प्रतीकात्मक रूप से दर्शाते हुए भव्य शोभा यात्रा रामायण कार्निवाल पर आधारित झांकियों का शुभारंभ साकेत महाविद्यालय से प्रारंभ होकर अयोध्या के मुख्य मार्गों से गुजरती हुई रामकथा पार्क तक जायेगी। पांचवे दीपोत्सव के मुख्य अतिथि किशन रेड्डी पर्यटन एवं सांस्तिक मंत्री भारत सरकार, उत्तर प्रदेश के राज्यपाल आनंदी बेन पटेल होंगे।

राम की पैड़ी से लेकर सरयू घाट व रामकथा पार्क का पूरा क्षेत्र रोशनी से जगमगा रहा है। मुख्यमंत्री योगी श्रीरामजन्मभूमि पर विराजमान रामलला के दरबार में दीप जलायेंगे। इसके बाद पूरी अयोध्या जगमगा उठेगी। इस बार राम की पैड़ी पर 9 लाख दीपक जलेंगे। मठ-मंदिरों व सार्वजनिक स्थलों पर कुल 3 लाख दीप जलाये जाने की तैयारी है। कुल मिलाकर 12 लाख दीपक जलाये जायेंगे, जिसके लिये राम की पैड़ी पर ड. राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों द्वारा दीपक को लगाने में जुटे रहे। मुख्यमंत्री सरयू सलिल की 5100 दीप की महाआरती भी उतारेंगे।

नित्य महाआरती के अध्यक्ष महंत शशिकांत दास ने बताया कि दीपोत्सव नये अयोध्या की एक नई पहचान दी है। सरयू आरती की तैयारियों में जुटे उन्होंने कहा कि धार्मिक एवं सांस्तिक गतिविधियों को बढ़ावा मिला है। इस बार श्रीरामजन्मभूमि परिसर को भव्य रूप से सजाया जा रहा है। रामलला के दरबार में रंगोली मनायी जा रही है। पूरे गर्भगृह को विभिन्न प्रकार के फूलों से सजाया जा रहा है। शहर के 12 स्थानों पर एल.ई.डी. वैन लगायी गयी है। दीपोत्सव की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं, घाट को सजा दिया गया है, जिसे रंग व रूप दिया गया है।

दीपोत्सव में आमंत्रित लोगों की ही होगी भागीदारी

मंगलवार को मण्डलायुक्त एमपी अग्रवाल, पुलिस महानिरीक्षक केपी सिंह, डीएम नितीश कुमार, एसएसपी शैलेश कुमार पांडेय ने प्रेसवार्ता कर व्यवस्थाओं व कार्यक्रमों की जानकारी दी। बताया कि सुरक्षा व अन्य कारणों से सीमित संख्या में लोगों को आमंत्रित किया गया है। सजीव प्रसारण की व्यवस्था है। सभी से बस सहयोग की अपील की।

डीएम नितीश कुमार ने बताया कि दीपोत्सव केवल शासन प्रशासन का कार्यक्रम है। हम सभी लोगों को सफल बनाने के लिए सहयोग की आवश्यकता है। लेजर शो होलोग्राफी आम जनमानस के लिए 4 नवम्बर को भी किया जाएगा। मुख्य कार्यक्रम 3 नवम्बर को 10 बजे साकेत महाविद्यालय से प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा द्वारा झांकियों को हनुमानगढ़ी, तुलसी उद्यान होते रामकथा पार्क में 2 बजे समापन से शुरू होगा।इस दौरान शोभायात्रा भी मुख्य मार्गों से कलाकारों के साथ चलेगी। 2 बजकर 15 मिनट पर मुख्यमंत्री तथा अन्य विशिष्टजन रामकथा पार्क में आएंगे जिसके बाद हेलीकाप्टर से राम, सीता और लक्ष्मण के प्रारूप का आगमन होगा। भरत मिलाप, राज्याभिषेक 3 बजकर 10 मिनट पर।

अतिथियों का पर्यटन मंत्री डा नीलकंठ तिवारी स्वागत करेंगे। रामजानकी पूजन, आरती तथा अनेक योजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास तथा परम्परा एवं संस्ति विरासत अयोध्या का विमोचन आदि कार्यक्रमों के बाद नयाघाट पर सरयू आरती के लिए आगमन लगभग 5 बजकर 25 मिनट पर आगमन और 5 बजकर 50 मिनट पर रामपैड़ी पर आगमन, 9 लाख दीपों का एक साथ प्रज्जवलन होगा। इसके अतिरिक्त 3 लाख दीपों का नगर के अन्य स्थानों पर प्रज्जवलन, 6 बजकर 30 मिनट पर होलोग्राफी शो, प्रोजेक्शन मैपिंग, रामायण पर आधारित लेजर शो, मुख्यमंत्री का उद्बोधन होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

+ 68 = 78