हैवानियत की हदें पार: घायल भाजपा कार्यकर्ता पर तृणमूल कार्यकर्ताओं ने किया पेशाब

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव हिंसा को लेकर देशभर में किरकिरी झेल रही पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस का एक और चेहरा सामने आया है। यहां पंचायत चुनाव के दौरान हिंसा में घायल हुए भाजपा कार्यकर्ता पर तृणमूल के कार्यकर्ताओं ने पेशाब कर दिया है।

आरोप है कि पश्चिम मिदनापुर जिले में तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने स्थानीय भाजपा कार्यकर्ता का अपहरण कर लिया, उसके साथ मारपीट की और जब उसने पानी मांगा तो उसके चेहरे पर पेशाब कर दिया। सूत्रों ने शनिवार को यह जानकारी दी।

रिपोर्ट के अनुसार, गुरुवार रात भाजपा कार्यकर्ता का सत्तारूढ़ पार्टी के कार्यकर्ताओं ने अपहरण किया। इसके बाद उसे गरबेटा में एक स्थानीय पार्टी कार्यालय में ले जाया गया, जहां उससे कथित तौर मारपीट की गई और अपमानित किया गया। पीड़ित हाल ही में संपन्न पंचायत चुनावों में भाजपा की ओर से पोलिंग एजेंट था।

शुक्रवार देर शाम भाजपा कार्यकर्ता को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया। पार्टी के उपाध्यक्ष समित दास के नेतृत्व में भाजपा का एक प्रतिनिधिमंडल शनिवार सुबह पीड़ित से मिलने अस्पताल गया, जिसने आपबीती सुनाई।

समित दास ने अस्पताल में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने अपनी जीत का जश्न मनाने के लिए हमारे पार्टी कार्यकर्ता से रंगदारी मांगी। कार्यकर्ता ने गरीब होने के कारण रुपये देने से इनकार कर दिया, जिसके बाद उन्होंने हमले शुरू कर दिए।

उक्त नेता ने बताया कि पहले ही इस मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज करा दी है। हम इस मुद्दे पर बड़ा आंदोलन करेंगे।

हालांकि, तृणमूल कांग्रेस के विधायक और पश्चिम मिदनापुर में पार्टी के जिला-समन्वयक अजीत माइती ने आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि गारबेटा क्षेत्र में चुनाव शांतिपूर्ण हुआ था। हमने किसी भी प्रकार के तनाव से बचने के लिए सीमित तरीके से विजय जुलूस का आयोजन किया था। ऐसी किसी भी घटना से तृणमूल का कोई लेना-देना नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

+ 17 = 19