ईडी ने कोर्ट में बताया : राज्य भर से रुपये वसूली के 3 खिलाड़ी थे कुंतल, शांतनु और तापस

कोलकाता : पश्चिम बंगाल के बहुचर्चित शिक्षक नियुक्ति भ्रष्टाचार मामले में गिरफ्तार तृणमूल नेता शांतनु बनर्जी को शनिवार बैंकशाल कोर्ट में पेश कर ईडी ने तीन दिनों की हिरासत में ले लिया है। यहां कोर्ट में उसकी पेशी के दौरान जब बहस हो रही थी तभी ईडी के अधिवक्ता फिरोज इडुलजी ने दावा किया कि शांतनु नियुक्ति भ्रष्टाचार की मुख्य कड़ियों में से एक है। उन्होंने न्यायालय में बताया कि राज्य भर में शिक्षक नियुक्ति भ्रष्टाचार के लिए रुपये वसूली का गिरोह था उसके तीन मुख्य खिलाड़ी थे।

उनमें कुंतल घोष और तापस मंडल को पहले गिरफ्तार कर लिया गया था और तीसरा महत्वपूर्ण खिलाड़ी शांतनु बनर्जी था। ये तीनों वसूली गिरोह के मध्य में थे और राज्य भर में सब एजेंटों के जरिए नौकरी उम्मीदवारों से रुपये की वसूली कर पूर्व शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी तक पहुंचाते थे। शांतनु के घर से बरामद हुई 300 उम्मीदवारों की सूची और उनमें से सात को शिक्षक की नौकरी मिलने का जिक्र करते हुए ईडी ने कहा कि वह महत्वपूर्ण व्यक्ति है और उसे हिरासत में लेकर पूछताछ किए जाने की जरूरत है। हालांकि शांतनु के अधिवक्ता ने जमानत की अर्जी लगाई और कहा था कि वह जांच में हर तरह से सहयोग करेंगे लेकिन कोर्ट ने मंजूरी नहीं दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

85 + = 92