एगरा ब्लास्ट : तीन दिनों बाद थाना प्रभारी पर गिरी गाज

कोलकाता : पूर्व मेदनीपुर जिले के एगरा में हुए बम ब्लास्ट के मामले में घटना के तीन दिनों बाद थाना प्रभारी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की गई है।

गत मंगलवार की दोपहर खादीकुल गांव में पटाखे की अवैध फैक्ट्री में हुए विस्फोट में 9 लोगों की मौत हो गई थी। इस घटना में पुलिस की भूमिका पर कई सवाल उठे हैं। कई लोगों ने सवाल उठाया है कि बिना पुलिस प्रशासन के संरक्षण लंबे समय से अवैध पटाखा कारखाना कैसे चल रहा था? घटना वाले दिन धमाके की जांच सीआईडी को सौंपी गई थी। सीआईडी ने मुख्य अभियुक्त कृष्णपद बाग उर्फ भानु को गिरफ्तार किया था जो घटना के बाद ओडिशा भाग गया था। भानु के दो साथियों, उनके बेटे और भतीजे को गिरफ्तार कर लिया गया था। हालांकि गुरुवार की रात भानु की मौत हो गई। इन तमाम अटकलों के बीच एगरा के आईसी का तबादला कर दिया गया है।

शुक्रवार को भवानी भवन से अधिसूचना जारी की गई। बताया गया है कि एगरा थाने के आईसी मौसम भट्टाचार्य का तबादला हुगली ग्रामीण साइबर क्राइम थाने में किया गया है। वहीं हुगली ग्रामीण थाने के आईसी स्वपन को एगरा थाना भेजा जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

55 − = 48