गरियाहाट डबल मर्डर : क्या हत्या की मिस्ट्री के पीछे छिपी है कोई पुरानी हिस्ट्री!

कोलकाता : महानगर स्थित गरियाहाट में रविवार की रात हुए डबल मर्डर की वारदात को अंजाम देने वालों की गुत्थी सुलझाने में कोलकाता पुलिस की टीम लगी हुई है। सुबीर चाकी (61) और रबिन मंडल (65) के पोस्टमार्टम रिपोर्ट में प्राथमिक रूप से यह बात सामने आई है कि दोनों के ऊपर किसी बेहद धारदार हथियार से वार किए गए हैं। उनके शरीर पर लगे जख्मों के निशान बेहद गहरे हैं। जैसा कि पुलिस ने बताया था कि जिस घर में हत्या हुई है, वह घर पूरी तरह से खाली था। सुबीर, अपने ड्राइवर रबिन के साथ कथित तौर पर उक्त मकान को किसी खरीददार को दिखाने के लिए गए थे। ऐसे में यह बात लगभग साफ है कि इस घटना के पीछे घर से किसी कीमती चीज को चोरी करने का मकसद नहीं था। सुबीर का शव मकान के पहले तल्ले से और रबिन का शव दूसरे तल्ले से मिला है। यह सम्भव है कि सुबीर की हत्या करने वाले को रबिन ने देख लिया हो और वह जान बचाने के लिए दूसरे तल्ले की ओर भागा हो लेकिन अपनी जान नहीं बचा पाया।

पुलिस का प्राथमिक अनुमान है कि यह हत्या संपत्ति विवाद को लेकर हो सकता है। यानि कि इस मर्डर मिस्ट्री के पीछे सुबीर की कोई पुरानी हिस्ट्री हो सकती है। किसी से संपत्ति को लेकर विवाद या फिर कोई और कीमती चीज, जिसका फायदा सुबीर के मरने से किसी को मिल सकता है।

सुबीर के बैकग्राउंड पर एक नज़र

सुबीर चाकी बेहद ही सम्भ्रांत परिवार से संबंध रखते थे।वह कोलकाता के नामी स्कूल सेंट जेवियर्स के स्टूडेंट रहे थे। उन्होंने ज्वाइंट एंट्रेंस में प्रथम स्थान प्राप्त किया था। उसके बाद आईआईटी खड़गपुर, आईआईएम, लंदन, कॉस्ट अकाउंटेंसी हर क्षेत्र में अपनी छाप छोड़ी। वे एक्साइड के प्रबंध निदेशक भी रहे। रिटायर होने के बाद वह किलबर्न इंजीनियरिंग लिमिटेड में बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स में शामिल हुए थे। उनका बेटा लंदन में और बेटी बंगलुरू में रहते हैं। उनका फर्न रोड में 3 मंजिला पुश्तैनी मकान के अलावा न्यू टाउन में डेढ़ हजार वर्ग फूट और बाईपास के पास स्थित आनंदपुर में आलीशान फ्लैट भी है।

हत्या में पेशेवर हत्यारे के शामिल होने के संकेत

मामले की जांच कर रही कोलकाता पुलिस की टीम के हाथों कई सुराग लगे हैं। पोस्टमार्टम की प्राथमिक रिपोर्ट के आधार पर विशेषज्ञों का कहना है कि इस हत्या के पीछे कोई पेशेवर हत्यारा है। शरीर पर लगे घाव, ऐसे संकेत दे रहे हैं कि यह करनी किसी पेशेवर हत्यारे की ही है। सूत्रों की मानें तो सुबीर चाकी की कार से मकान के कागजात मिले हैं। वहीं पुलिस मकान के आस-पास के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है।

गौरतलब है कि 78ए कांकुलिया रोड स्थित एक मकान से पुलिस ने रविवार की रात 2 लोगों के खून से लथपथ शव को बरामद किया था। मृतकों की पहचान सुबीर चाकी (61) और रबिन मंडल (65) के रूप में हुई थी। जिस मकान से दोनों शवों को बरामद किया गया था, सुबीर उस मकान के मालिक थे और रबिन उनका ड्राइवर। सुबीर का शव मकान के पहले तल्ले और रबिन का शव मकान के दूसरे तल्ले पर स्थित कमरों से मिला था। दोनों के ही गले, कलाई व पैर पर धारदार हथियार से वार के निशान मिले थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 + 1 =