ममता का कांग्रेस पर तंज, कहा- जो लड़ना नहीं चाहते, उनके बिना ही आगे बढ़ेंगे

शरद पवार बोले- क्षेत्रीय दलों को एकजुट कर बनाएंगे मजबूत तीसरा मोर्चा

मुंबई : राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार से बुधवार को मुंबई में मुलाकात के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कांग्रेस पर तंज कसा है। बनर्जी ने कहा कि जो लोग लड़ना ही नहीं चाहते, हम उनके बिना ही आगे बढ़ेंगे और लोकसभा के आगामी चुनाव में तीसरा मोर्चा के रूप में मजबूत विकल्प तैयार करेंगे। वहीं शरद पवार ने भी क्षेत्रीय दलों को मिलाकर तीसरा मोर्चा बनाने की बात पर जोर दिया है।

तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष बनर्जी ने शरद पवार की मौजूदगी में संयुक्त पत्रकार वार्ता में कहा कि जो लोग फिल्ड में डटकर खड़े हैं और लड़ाई लड़ रहे हैं, उन लोगों को एकसाथ लाने के लिए वह प्रयासरत हैं। उन्होंने कांग्रेस का जिक्र किए बिना कहा कि जो लोग लड़ाई में कहीं नहीं हैं, वे उन लोगों के बारे में कुछ कहना ही नहीं चाहतीं, उनके बिना ही आगे बढ़ेंगी।

राकांपा अध्यक्ष शरद पवार ने कहा कि उनका प्रयास सभी क्षेत्रीय दलों को एकजुट कर लोकसभा के आगामी चुनाव के लिए मजबूत विकल्प तैयार करना है। इस तीसरे मोर्चे का नेतृत्व कौन करेगा, यह इस समय का मुद्दा नहीं है। इसे बाद में आम सहमति से तय कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि ममता दीदी का कहना सही है कि जो लोग फिल्ड में हैं, उन्हें साथ लेकर चला जाएगा।

बनर्जी ने शरद पवार से घंटेभर तक बातचीत के बाद कहा कि मौजूदा राजनीतिक स्थिति को देखते हुए क्षेत्रीय दलों को साथ मिलाकर एक मजबूत तीसरा मोर्चा बनाना जरूरी है। वह खुद शिवसेना अध्यक्ष और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मिलना चाहती थीं, लेकिन वे अस्पताल में हैं, इसलिए वे आदित्य ठाकरे और संजय राऊत से मिली थीं। बनर्जी ने उद्धव के शीघ्र स्वस्थ्य होने की कामना की। उद्धव के बेटे और राज्य के पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे से मंगलवार को मुलाकात के बाद बनर्जी ने “जय मराठा, जय बांग्ला” का नारा दिया था।
उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री बनर्जी मंगलवार को मुंबई के तीन दिवसीय दौरे पर मंगलवार को पहुंचीं और सिद्धि विनायक मंदिर में पूजा-अर्चना की। इसके बाद बनर्जी ने 26/11 के मुंबई आतंकी हमले के शहीद तुकाराम ओंबले के स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित कीं। बनर्जी ने बुधवार को मुंबई में गैर-भाजपा दलों के साथ बैठक कर उनसे चर्चा की। इसके बाद वह शरद पवार से मिलीं। मुख्यमंत्री बनर्जी के इस दौरे का प्रमुख उद्देश्य आगामी अप्रैल में पश्चिम बंगाल में आयोजित होने वाला बिजनेस समिट है, जिसमें वह उद्योगपतियों को आमंत्रण देने के लिए पहुंची हैं। बनर्जी गुरुवार को कोलकाता लौट जाएंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

+ 47 = 51