West Bengal : शुभेंदु अधिकारी ने भगिनी निवेदिता को किया याद

Suvendu Adhikari File Pic

कोलकाता : पश्चिम बंगाल विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी ने गुरुवार को भगिनी निवेदिता को श्रद्धांजलि दी है। इस बारे में उन्होंने ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा है कि सिस्टर निवेदिता जी की जयंती पर मैं सामाजिक कार्यकर्ता और स्वामी विवेकानंद की उत्साही शिष्य को श्रद्धांजलि देता हूं।

उल्लेखनीय है कि भगिनी निवेदिता का मूल नाम ‘मार्गरेट एलिजाबेथ नोबेल’ था। मार्गरेट एलिजाबेथ नोबेल का जन्म 28 अक्टूबर 1867 को आयरलैंड में हुआ था। प्रारंभिक जीवन में उन्होंने कला और संगीत का अच्छा ज्ञान हासिल किया। नोबेल ने पेशे के रूप में शिक्षा क्षेत्र को अपनाया। नोबेल के जीवन में निर्णायक मोड़ 1895 में उस समय आया, जब लंदन में उनकी स्वामी विवेकानंद से मुलाकात हुई। स्वामी विवेकानंद के उदात्त दृष्टिकोण, वीरोचित व्यवहार और स्नेहाकर्षण ने निवेदिता के मन में यह बात पूरी तरह बिठा दी कि भारत ही उनकी वास्तविक कर्मभूमि है। इसके तीन साल बाद वह भारत आ गईं और भगिनी निवेदिता के नाम से पहचानी गईं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

11 − 3 =