त्रिपुरा में टीएसआर जवान ने दो अफसरों की हत्या की

मुख्यमंत्री ने जताया दुख, मृतकों के परिवारों को पांच-पांच लाख रुपये और एक-एक आश्रित को सरकारी नौकरी देने की घोषणा

अगरतला : त्रिपुरा स्टेट राइफल्स (टीएसआर) कैंप में शनिवार की सुबह करीब साढ़े नौ बजे टीएसआर जवान ने गोलियों से दो अफसरों को मौत के घाट उतार दिया। गोली लगने से एक अधिकारी की मौके पर और दूसरे अफसर की अस्पताल ले जाते वक्त मौत हो गई।

यह वारदात सिपाहीजला जिले के कोनाबन में ओएनजीसी के गैस गैदरिंग स्टेशन पर हुई। वारदात के बाद आरोपित टीएसआर जवान ने हथियार के साथ मधुपुर पुलिस थाने में आत्मसमर्पण कर दिया। त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देव ने ड्यूटी के दौरान टीएसआर के दो अफसरों की मौत पर गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने मृतकों के परिवारों को पांच-पांच लाख रुपये की आर्थिक सहायता और एक-एक आश्रित को सरकारी नौकरी देने की घोषणा की है।

पुलिस के अनुसार टीएसआर राइफलमैन सुकांत दास ने सूबेदार मरका सिंह जमातिया को मौत के घाट उतारने के बाद टीएसआर नायक सूबेदार किरण जमातिया को गोली मार दी गई। उन्हें मधुपुर के त्रिपुरा मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाया गया। गंभीर हालत होने के कारण डॉक्टरों ने उन्हें जीबी अस्पताल स्थानांतरित कर दिया गया। मगर रास्ते में ही उन्होंने दम तोड़ दिया।

पुलिस के अनुसार हत्या अभियुक्त टीएसआर राइफलमैन सुकांत दास की पत्नी मल्लिका रियांग पुलिस में सिपाही है। वह अरकेपुर थाने में कार्यरत है। हाल ही में सुकांत दास ने छुट्टी के लिए आवेदन किया था। उसका आवेदन मंजूर करने के बजाय उसे प्रशिक्षण के लिए भेज दिया गया। माना जा रहा है कि वह इससे मानसिक अवसाद में था। मधुपुर थाने में आरोपित से पूछताछ की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− 3 = 7