पश्चिम बंगाल सरकार भ्रष्टाचारियों की पनाहगार, तुष्टिकरण में बंगाल को बर्बाद किया: अनुराग ठाकुर

Spread the love

कोलकता : केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण और युवा एवं खेल मामलों के मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में तुष्टिकरण की पराकाष्ठा कर दी है। आज जब पूरे देश में रामनाम की गूंज है तब पश्चिम बंगाल में हिंदुओं को खुशियां भी नहीं मानने दिया जा रहा। यहां कर्फ्यू जैसी स्थिति है। अब साधुओं के साथ मारपीट और उनकी हत्या के प्रयास के मामले सामने आए हैं। लगातार मीडिया में खबर चलाने के बाद कार्रवाई हुई।

शनिवार को कोलकाता एयरपोर्ट पर पत्रकारों से मुखातिब अनुराग ठाकुर ने राज्य में कानून व्यवस्था की बदहाली पर गंभीर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि ममता दीदी के राज में पश्चिम बंगाल की कानून व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है। जो पैसा जनता की भलाई के लिए आता है उसे लूटने का पूरा प्रबंध यहां है। भ्रष्टाचार के मामलों में कार्रवाई करने आई ईडी की टीम पर भी यहां पथराव और मारपीट कर उनका सिर फोड़ने का काम किया जाता है। पश्चिम बंगाल की सरकार भ्रष्टाचारियों की पनाहगार है।

अनुराग ठाकुर ने सवाल उठाया कि क्या ममता बनर्जी ने अपने मंत्रियों, सांसदों और विधायकों को लूट की खुली छूट दे रखी है या यह लोग इनकी सुनते नहीं हैं? पश्चिम बंगाल में अगर किसी पुलिस अधिकारी के ऊपर भी भ्रष्टाचार के आरोप लगते हैं तो ममता बनर्जी उसे बचाने के लिए सड़क पर उतर आती हैं। छापेमारी होती है तो करोड़ों रुपये बरामद होते हैं। तृणमूल के ही लोगों का नाम उसमें क्यों आता है?

केजरीवाल पर भी उठाए सवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से जुड़े सवाल पर ठाकुर ने कहा, “जो लोग कभी कांग्रेस के भ्रष्टाचार और देश से भ्रष्टाचार हटाने की बात करते थे वह आज स्वयं भ्रष्टाचार के दलदल में डूबे हैं। आज उनके उपमुख्यमंत्री, मंत्री, सांसद जेल में हैं। किसी को जमानत नहीं मिल रही। अरविंद केजरीवाल ने सिर्फ भ्रष्टाचार और अराजकता फैलाई है।”

गठबंधन में ना कोई नेता न नीति

इंडी गठबंधन की बैठक को लेकर पूछे गए सवाल पर अनुराग ठाकुर ने कहा कि इस गठबंधन एक नेता दूसरे से बात नहीं करता। पश्चिम बंगाल में ही अधीर रंजन चौधरी कुछ और कहते हैं, ममता बनर्जी कुछ और कहती हैं। इनके पास ना नेता है, ना नीति है, ना नीयत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *