West Bengal : 9 घंटे की लंबी पूछताछ के बाद टीएमसी महासचिव अभिषेक बनर्जी ईडी कार्यालय से निकले

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में स्कूल में नौकरियों के लिए हुए कथित घोटाले की जांच के सिलसिले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारियों ने बुधवार को तृणमूल कांग्रेस के महासचिव व सांसद अभिषेक बनर्जी से 9 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की।

ईडी के एक अधिकारी ने बताया कि तृणमूल के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी से एजेंसी के अधिकारियों ने सुबह 11.30 बजे से रात 8.40 बजे तक पूछताछ की।

ईडी के एक अधिकारी ने बताया, ”बनर्जी को स्कूल में शिक्षकों की भर्ती से जुड़ी अनियमितताओं के संबंध में साक्ष्य उपलब्ध कराने के लिए बुलाया गया था।”

Advertisement
Advertisement

डायमंड हार्बर से सांसद अभिषेक आज दिल्ली में विपक्षी गुट इंडिया की समन्वय समिति की बैठक में शामिल नहीं हुए क्योंकि वह एजेंसी के अधिकारियों के सामने पेश हुए थे।

पूछताछ के बारे में विस्तार से बताते हुए ईडी अधिकारी ने कहा कि उनके तीन सहयोगियों ने कथित तौर पर घोटाले में शामिल कंपनी ‘लीप्स एंड बाउंड्स’ के साथ उनकी भूमिका और जुड़ाव पर बनर्जी से पूछताछ की।

उन्होंने कहा, ”बनर्जी से कंपनी के साथ उनके जुड़ाव के बारे में पूछा गया और क्या वह अभी भी निदेशक का पद संभाल रहे हैं। इसकी जानकारी ली गई।”

यह भी बताया गया है कि बनर्जी ने ईडी अधिकारियों के साथ पूछताछ में सहयोग किया है।

वहीं, ईडी कार्यालय से निकलने के बाद अभिषेक ने एक बार एजेंसियों पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि कई साल बीतने के बावजूद केंद्रीय एजेंसियाँ सारदा और नारदा जैसे मामलों की जाँच पूरी नहीं कर पायी हैं। केंद्रीय एजेंसियाँ ग़ैर-बीजेपी शासित राज्यों में सक्रिय हैं लेकिन बीजेपी शासित राज्यों में वे मौन हैं। विधानसभा में विपक्ष के नेता शुभेन्दु अधिकारी का नाम लेते हुए अभिषेक ने कहा कि जिसे कैमरे पर नोटों का बंडल लेते देखा गया, उसे एजेंसियाँ बुला तक नहीं रही हैं। एक बार फिर अभिषेक ने कहा कि उनके खिलाफ आरोप प्रमाणित होते हैं तो वे ईडी कार्यालय के बाहर फाँसी पर झूलने को तैयार हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

+ 16 = 25