भूपति नगर विस्फोट मामले के आरोपितों ने भी खटखटाया हाई कोर्ट का दरवाजा

Calcutta High Court

कोलकाता : राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने 2022 भूपतिनगर विस्फोट मामले में पूछताछ के लिए पश्चिम बंगाल के पूर्व मेदिनीपुर जिले के जिन तृणमूल कांग्रेस नेताओं को तलब किया था, वो बुधवार को समन को चुनौती देने के लिए कलकत्ता हाईकोर्ट पहुंच गए।

सत्तारूढ़ पार्टी के आठ नेता जो विस्फोट मामले में एनआईए की जांच के दायरे में हैं, उनमें से दो बलाई चरण पात्रा और मनोब्रत जाना पहले से ही एनआईए की हिरासत में हैं। तीन अन्य मानव कुमार परुआ, सुबीर मैती और नवो कुमार पांडा को केंद्रीय एजेंसी ने पूछताछ के लिए नोटिस जारी किया है।

तृणमूल कांग्रेस के इन तीन नेताओं के वकील ने बुधवार को न्यायमूर्ति तीर्थंकर घोष की एकल-न्यायाधीश पीठ से संपर्क किया और अपने मुवक्किलों के खिलाफ एनआईए द्वारा किसी भी दंडात्मक कार्रवाई के खिलाफ बचाव की मांग की।

हालांकि, मामले पर कोई आदेश पारित करने के बजाय, न्यायमूर्ति घोष ने एनआईए की केस डायरी मांगी। मामले पर अगली सुनवाई 17 अप्रैल को होनी है। भूपतिनगर विस्फोट मामले में तृणमूल कांग्रेस के कुल आठ नेता काफी समय से एनआईए की जांच के दायरे में हैं। दो को पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया है और तीन को पूछताछ के लिए नोटिस जारी किया गया है। इनके अलावा जांच के दायरे में सत्तारूढ़ दल के अन्य तीन नेता उत्तम मैती, मिलन बर्मन और शिबप्रसाद गायेन हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

61 − 51 =