भारत क्षत्रिय समाज ने बैरकपुर में लगाया कांवड़ियों के लिए सेवा शिविर

बैरकपुर : प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी श्री श्री शम्भुनाथ मंदिर परिचालना समिति, बैरकपुर एवं उसकी 21 सहयोगी संस्थाओं द्वारा एक दिवसीय कांवड़ यात्रा सह जलाभिषेक कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें आस-पास और दूर-दराज के हजारों शिव भक्तों ने दक्षिणेश्वर के गंगाघाट से जल लेकर पैदल कांवड़ यात्रा कर बाबा शम्भुनाथ का जलाभिषेक किया।

श्री श्री शम्भुनाथ मंदिर परिचालन समिति के अध्यक्ष विवेक सिंह एवं मंदिर समिति की सहयोगी संस्थाओं के साथ बैरकपुर क्षत्रिय समाज तथा शिवशक्ति कांवड़िया श्रीराम ज्योति मिशन के अध्यक्ष और भारत क्षत्रिय समाज के महासचिव मनोज सिंह आदर्श ने बताया कि सावन के महीने में दक्षिणेश्वर के गंगाघाट से कांवड़ यात्रा एवं जलाभिषेक का यह एक दिवसीय कार्यक्रम 35 वर्षों (1988) से अनवरत चला आ रहा है।

कांवड़ियों की सेवा हेतु हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी भारत क्षत्रिय समाज, बैरकपुर क्षत्रिय समाज एवं शिवशक्ति कांवड़िया श्रीराम ज्योति मिशन के संयुक्त तत्वावधान में एक विशाल सेवा शिविर का आयोजन किया गया और कांवड़ियों को चाय, पानी, शर्बत, कोल्डड्रिंक्स, जलेबी इत्यादि का वितरण किया गया।

इस जलाभिषेक कार्यक्रम एवं सेवा शिविर में भरपूर सहयोग देते हुए टीटागढ़ क्षत्रिय समाज के संस्थापक महासचिव नन्दजी सिंह और अन्य सदस्यों के साथ कोलकाता क्षत्रिय समाज के कृष्णा सिंह, भरत सिंह एवं अन्य सदस्यों की भी उपस्थिति रही।

इस अवसर पर शम्भुनाथ मंदिर परिचालन समिति के सदस्य रत्नेश सिंह गुड्डू, रवि जायसवाल, राजेन्द्र वर्णमाला, शिबु भट्टाचार्य, संतोष साहा, दिनेश सिंह, रंजीत कोइरी, रतनलाल घोष, आकाश बाल्मीकि, चन्दन केशरी एवं बैरकपुर क्षत्रिय समाज तथा शिवशक्ति कांवड़िया के सदस्य लोकनाथ पान्डेय, धर्मेन्द्र मिश्रा, शिक्षक कृष्णजी सिंह, सूरज प्रजापति, मन्त्र सिंह, अजीत सिंह, रुद्र प्रताप आदर्श, महेन्द्र स्वर्णकार गोपू, बिशू स्वर्णकार, माला लोहार, सविता ठाकुर, पूजा नारायण सिंह और भारत क्षत्रिय समाज के मुख्य संरक्षक अरविन्द सिंह, राम बाबू सिंह, प्रह्लाद सिंह, राजा बाबू सिंह, मनोज कुमार सिंह मुन्ना, रविन्द्र सिंह दीपक, राजगृह सिंह, धर्मेन्द्र कुमार सिंह, प्रीतम सिंह, ललन सिंह, संजीव सिंह दौलत, कैप्टन के सी सिंह, परमेश्वर सिंह, दुधेश्वर सिंह, प्रकाश उपाध्याय, राजेश शर्मा, जीतन जयसवारा एवं अन्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

43 + = 53