सोहा अली खान ने बताया, कैसे छोटी-छोटी बातों से मजबूत रहते हैं फेफड़े

कोलकाता : नवंबर में आसमान हमेशा खूबसूरत होता है; तरह-तरह के रंग आसपास के माहौल को इतना खूबसूरत बना देते हैं कि हमारी नजरें उससे बंधी रह जाती हैं। सब कुछ प्यारा होने के बावजूद इसी महीने में मौसम बदलने के कारण खांसी और जुकाम होना आम बात है। मॉनसून बीत चुका है और सर्दी शुरू हो गई है और इसका मतलब है कि हमारे शरीर को अतिरिक्त देखभाल की जरूरत है। यह भी जरूरी है कि हम अपनी सांस और फेफड़ों की सेहत एकदम दुरुस्त रखें।
एक मां के तौर पर सेहत पर बहुत ध्यान देने वाली सोहा अली खान हमेशा सोशल मीडिया के जरिये अपने तरीके और नुस्खे हमारे साथ साझा करती रही हैं। शाही पटौदी खानदान से आने वाली सोहा ने हमेशा पारंपरिक सामग्री के फायदों से भरी पारंपरिक घरेलू दवाओं में और योग में भरोसा किया है। सोहा को इस महीने नन्ही इनाया के साथ डूबते सूरज को निहारते और गरमागरम कॉफी के साथ कुछ पढ़ते देखा जाता है मगर वह यह बाती भी समझती हैं कि अपने फेफड़ों और सांस पर ध्यान देना कितना जरूरी है, खासकर तब जब खांसी और जुकाम के लक्षण इस महीने में आम हो जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

60 − 50 =